Author Topic: आज कि नारी  (Read 476 times)

Offline shardul

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 186
आज कि नारी
« on: February 10, 2016, 11:39:17 PM »

आज कि नारी, बहोत ही प्यारी !
रहेन सहेन मे, सबसे न्यारी !!१!!
आज कि नारी....... कंधे से कंधा, मिला के ;
कभी नही वो, किससे हारी !!२!!
आज कि नारी....... हवाई सुंदरी, बनठनकर वो ;
ऐसी लगती, राजदुलारी !!३!!
आज कि नारी....... हवाई जहाज की पायलट भी है ;
घुमा रही है दुनिया सारी !!४!!
आज कि नारी....... हाथ मे बंदूक को, लेकर वो ;
दुश्मन देश को, दे ललकारी !!५!!
आज कि नारी....... निकल गई, लडको से आगे ;
आज तो, उनपर भी है भारी !!६!!
आज कि नारी....... मा बहन बिवी, बनकर वो ;
निभा रही, हर रीश्तेदारी !!७!!
आज कि नारी....... हर सुख मे और, हर दुख मे भी ;
निभा रही खुद, जिम्मेदारी !!८!!
आज कि नारी....... टीचर बनके, गुरु रूप मे ;
ज्ञानदान, कर रही है जारी !!९!!
आज कि नारी....... सक्षम बन के, खुद को सवारा ;
कभी कालिका, रुद्र अवतारी !!१०!!
आज कि नारी....... अच्छे दिन तो, आ ही गये है ;
जय जय बोलो जय जय नारी !!११!!
आज कि नारी....... -गजाभाऊ लोखंडे

Marathi Kavita : मराठी कविता