Author Topic: एक दौर ऐसा भी हुआ करता था  (Read 257 times)

Offline yogita ghumare

  • Newbie
  • *
  • Posts: 11
एक दौर ऐसा भी हुआ करता था,
जब शामें सुहानी हुआ करती थी
और हम चाँद को तकते तकते
रात की मदहोशी में खो जाया करते थे।

एक दौर ऐसा भी हुआ करता था
जब सपनों की दुनिया  अपनी थी,
और  हर दुःख के समंदर में
अपनों का किनारा  हुआ करता था ।
ना जाने  कहाँ खो गया  वो  दौर
जहाँ हर गम के अँधेरे में
खुशी का सहारा हुआ करता था।

                                                         -  योगिता घुमरे

Marathi Kavita : मराठी कविता


Offline कवि - विजय सुर्यवंशी.

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 481
  • Gender: Male
  • सई तुझं लाघवी हसणं अजुनही मला वेड लावतं.....
Re: एक दौर ऐसा भी हुआ करता था
« Reply #1 on: June 10, 2018, 11:11:08 AM »
अप्रतिम ......