Author Topic: * वृद्धाश्रम *  (Read 567 times)

Offline कवी-गणेश साळुंखे

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 883
  • Gender: Male
* वृद्धाश्रम *
« on: November 13, 2015, 03:30:59 PM »
क्या तुझे फुरसत नही
हमसे आकर मिलने की
वृद्धाश्रम से जाती है
चिठ्ठीयां खामोश सवालों की
क्या हमसे भी कीमती
चीज तुने हासिल की
जो तुझे याद नही
आती बुढे माँ-बाप की.
कवी - गणेश साळुंखे.
Mob - 7715070938

Marathi Kavita : मराठी कविता


Offline sindu.sonwane

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 98
  • Gender: Female
Re: * वृद्धाश्रम *
« Reply #1 on: November 15, 2015, 05:56:19 PM »
khup chaan