Author Topic: * अब वो बात नहीं *  (Read 448 times)

Offline कवी-गणेश साळुंखे

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 883
  • Gender: Male
* अब वो बात नहीं *
« on: October 12, 2015, 12:40:44 PM »
लोग कहते हैं के अब वो
बात नही रही तेरी शायरीमें
जो दर्द भर देता था तु
पहले तेरे हर एक लफ्ज में.
कवी - गणेश साळुंखे.
Mob - 7715070938

Marathi Kavita : मराठी कविता