Author Topic: भुक  (Read 592 times)

Offline शिवाजी सांगळे

  • Sr. Member
  • ****
  • Posts: 1,257
  • Gender: Male
  • या जन्मावर, या जगण्यावर, शतदा प्रेम करावे.....
भुक
« on: February 16, 2015, 11:36:24 PM »
भुक

न जाने जीवन की
सच्चाई भी कितनी
अजीब हाेती है?
मिटेगी भुक, साेचकर
जिंदगी गुजर जाती है !

©शिव

Marathi Kavita : मराठी कविता