Author Topic: भारत मा कि पुकार  (Read 681 times)

Offline sweetsunita66

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 862
  • Gender: Female
  • प्रेमा साठी जगणे माझे ।
भारत मा कि पुकार
« on: August 15, 2013, 10:15:21 PM »
छोटा हो या बडा हो मसला,
अगर तुममे है जरा भी हौसला
लावे जैसा फूट पडो,
और दुश्मनो पर टूट पडो .

चखा दो उनको हिंदुस्तानी पानी
जरा  उन्हे याद करा दो नानी,
हिम्मत न करे वो आंख उठाने की,
तिरंगे कि शान घटाने  की.

भारत माता के फिर टुकडे न हो,
हिंदू मुस्लिम के दुखडे  न हो,
जगाओ अंदर का आजाद-भगत,
करनी   पड सकती  है  दुश्मनो से जुगत.
आओ उठो सज्ज हो लो,
नई उमंग और जोश भर लो,
दिखा दो नौजवानो गरम खून कि तरंग,
पता  चले दुनिया को,
हम है भारतीय दबंग.

भारत माता  पुकार रही है,
गौरव से अपने पुत्रो को,
कैसे शूर पैदा किये इस मा ने,
दुनिया को दिखलाने  को.

आओ मिलकर प्रयास करे यह,
माता कि शान घटने न दो,
आज यह कसम खा लो,तिरंगे को बटने न दो.   

                                              सुनिता नाड्गे(शेरकर)
                                                    १५ ऑगस्ट २०१३
                                                 HAPPY INDEPENDENCE DAY :) :) :)
« Last Edit: August 16, 2013, 12:41:00 PM by sweetsunita66 »

Marathi Kavita : मराठी कविता


Nileshsab

  • Guest
Re: भारत मा कि पुकार
« Reply #1 on: August 16, 2013, 10:25:57 AM »
Sundar kavita ahe. Hindi kavitansathi kavyakosh.com navachi ek site ahe. Tithe post kara.
Regards.

Offline sweetsunita66

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 862
  • Gender: Female
  • प्रेमा साठी जगणे माझे ।
Re: भारत मा कि पुकार
« Reply #2 on: August 16, 2013, 12:19:59 PM »
Nileshsab  :) thanx a lot  :) :)

Offline कवि - विजय सुर्यवंशी.

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 478
  • Gender: Male
  • सई तुझं लाघवी हसणं अजुनही मला वेड लावतं.....
Re: भारत मा कि पुकार
« Reply #3 on: August 17, 2013, 07:01:57 PM »
भारत माता के फिर टुकडे न हो,
हिंदू मुस्लिम के दुखडे  न हो,
जगाओ अंदर का आजाद-भगत,
करनी   पड सकती  है  दुश्मनो से जुगत.
आओ उठो सज्ज हो लो,
नई उमंग और जोश भर लो,
दिखा दो नौजवानो गरम खून कि तरंग,
पता  चले दुनिया को,
हम है भारतीय दबंग. ..........
.
.
.
.
nice lines.........

Offline sweetsunita66

  • Full Member
  • ***
  • Posts: 862
  • Gender: Female
  • प्रेमा साठी जगणे माझे ।
Re: भारत मा कि पुकार
« Reply #4 on: August 17, 2013, 08:06:30 PM »
thanx vijay....... :) :) :)