Author Topic: नकाब  (Read 737 times)

Offline shaan@5

  • Newbie
  • *
  • Posts: 9
नकाब
« on: October 08, 2014, 11:46:48 PM »
नाम नही पेहचान बदलना चाहता हूं
खुद पे से खुद ही का नकाब हटाना चाहता हूं
यूं तो लाख देखे है तेवर दुनियाके
लोग तो तसबीर भी बदल देते है
मै तो बस तकदीर बदलना चाहता हूं....!!

Shaan

Marathi Kavita : मराठी कविता


Ajay Ganekar

  • Guest
Re: नकाब
« Reply #1 on: January 15, 2015, 05:26:43 PM »
Bahot accha....