Author Topic: तेरी मुस्कुराहट  (Read 1737 times)

तेरी मुस्कुराहट
« on: October 15, 2014, 12:27:07 PM »
जो देखा तुझे मुस्कुराते हुऐ
खुदकों भी हसते हुऐ पाया
तेरी मुसकान में एक जादुसा हैं
तुझे देखने के बाद मुझे हर किसी में
तेरा ही चेहरा नजर आया
  -कवी नीरज राव  ;D ;D

Marathi Kavita : मराठी कविता