Author Topic: ना रब दिखा ना अल्ला  (Read 809 times)

Offline sanjay limbaji bansode

  • Jr. Member
  • **
  • Posts: 260
ना रब दिखा ना अल्ला
« on: October 29, 2015, 11:04:43 PM »
मंदिर देखा मस्जिद देखा
देखा हर गल्ली मोहल्ला
ना रब दिखा ना अल्ला
ना रब दिखा ना अल्ला !!

बह रहा था दूध कहाँ
चदर कही बिछा था
घी से भरी रोटी पड़ी थी
बाहर भूखा, रोता बच्चा था
बाहर भीक माँगती भिकारन
अंदर, बिना माँगे भरा गल्ला !

देखा हर गल्ली मोहल्ला
ना रब दिखा ना अल्ला !!

दर्शन करने गया हुआ
चंदा ही दे रहा था
नाम था सिर्फ भगवान का
बाकी,  धंदा ही हो रहा था
सालों साल भगत रो रहा था
पुजारी मार रहा था डल्ला !

देखा हर गल्ली मोहल्ला
ना रब दिखा ना अल्ला !!

संजय बनसोडे 9819444028


Marathi Kavita : मराठी कविता